5G टेक्नॉलजी क्या है और 4G से बेहतर क्यों है

5G टेक्नॉलजी क्या है! आज मोबाईल , इंटरनेट और  सोशल मीडिया हमारे जीवन के एक महत्वपूर्ण अंग बन चुके है। इनके बिना शायद जीवन कि कल्पना करना भी मुश्किल है। आज कई देशों मे नए जनरेशन का इंटरनेट और कम्युनिकेशन इस्तेमाल हो रहा है। ये नया इंटरनेट सर्विस 4 जी के मुकाबले 10 से 20 गुण ज्यादा तेज है। 

जी हाँ हम बात कर रहे है 5 जी नेटवर्क सर्विसेज़ की, भारत मे फिलहाल अभी तक 5 जी लॉन्च नहीं हुआ है। इस लेख मे हम 5जी के बारे में कुछ जानकारी देंगे जैसे: 5G टेक्नॉलजी क्या है, 5जी के फायदे आदि। 

तो चलिए शुरू करते है!!

5G technology kya hai

5G Technology क्या है | What is 5G Technology in Hindi

 ये 5 वीं पीढ़ी का Network Technology है।आज 5G वायरलेस नेटवर्क का नया मानक है। इस नेटवर्क को सब कुछ एक साथ जोड़ने के लिए बनाया गया है जैसे :मशीन, वस्तुओ और कुछ उपकरणों आदि । 5G वायरलेस नेटवर्क टेक्नोलॉजी आपको हाई इंटरनेट स्पीड ,Low Latency Rate आदि प्रदान करता है। 5जी मे हाई बैंडविड्थ का इस्तेमाल होता इससे ये कम एरिया कवर करेगा लेकिन इसकी स्पीड 4G से 20 गुण ज्यादा तेज होगा।  

5 Generation OFDM(Orthogonal frequency-division multiplexing) और 5G NR एयर इंटरफेस का उपयोग करता है, इससे कई तरह के चैनल पर डिजिटल सिग्नल को Modify करें जिससे नेटवर्क में Inference कम होगा। ये नेटवर्क 4G LTE के मुकाबले तेज,ज्यादा बैंडविड्थ के लिए डिजाइन किया गया है। 

5G का आविष्कार किसने किया | Who invented 5G in Hindi

5 जी का अविष्कार किसी एक आदमी या कंपनी द्वारा नही हुआ है, सभी मोबाइल कंपनियां इसमे अपना अपना योगदान दे रही है। 5 जी के आविष्कार में सबसे बड़ी भूमिका क्वालकॉम कंपनी का माना जा रहा है।

5G टेक्नॉलजी के 5 फायदे | 5 benefits of 5G technology in Hindi

मिलीमीटर वेव स्पेक्ट्रम: जो नया मिलीमीटर वेव स्पेक्ट्रम  है 5जी का ये 30 से लेकर 300 गीगाहर्ट्ज पर काम करेगा। इसलिए इसमें तेज गति से ज्यादा से ज्यादा मात्रा में डाटा भेजा जा सकता है क्योंकि इसकी फ्रीक्वेंसी ज्यादा होने की वजह से ये आस पास के नेटवर्क से प्रभावित नहीं होगा। 

उन्नत LTE: आज तक के मोबाईल ब्रॉड्बैन्ड मे 5G सबसे नया और एक बड़ा कदम है।

इंटरनेट स्पीड:अभी तक 4 जी मे आपको इंटरनेट कि स्पीड 1 gbps से ज्यादा नहीं मिली थी, लेकिन 5जी मे हाई बैंडविड्थ हिने कि वजह से इसकी डौनलोडिंग स्पीड सबसे ज्यादा 20 gbps दर्ज की गई है और अपलोडिंग स्पीड 10 gbps है।

5G में बैंड: यह पहला ऐसा नेटवर्क है जिसमे 3 बैंड स्पेक्ट्रम (निम्न , मध्यम और उच्च बैंडविड्थ) का इस्तेमाल हुआ है। इन सभी बैंडविड्थ स्पेक्ट्रम के अपने अपने उपयोग है लेकिन सबकी अपनी कुछ सीमाएं  भी है।

कम बैंड का स्पेक्ट्रम:5 जी मे आपको आपको कम से कम 100 mbps तक कि डोनलोडिंग और अपलोडिंग स्पीड मिलती है।  

 क्या 5G  4G से बेहतर है | Is 5G better than 4G in Hindi

5G काफी बेहतर नेटवर्क है 4G के मुकाबले, ऐसे कई कारण है जिसकी वजह से ये 5G 4G से बेहतर है जैसे:

5G काफी तेज है 4G के मुकाबले 

5G काफी तेज है, इसकी डाटा स्पीड कम से कम 100 Mbps से लेकर 20 Gbps तक जा सकती है। जो 4 G  के मुकाबले मे काफी बेहतर और तेज है । 

इसकी क्षमता कई गुण ज्यादा है

इस नेटवर्क को  इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ये 4 G के मुकाबले में ज्यादा ट्रैफिक संभाल सकता है और इसकी efficiency 4G से 100 गुण ज्यादा है। 

 4G  के मुकाबले काफी Low Latency

अधिक तात्कालिक, रीयल-टाइम पहुंच प्रदान करने के लिए 5G में विलंबता काफी कम है: एंड-टू-एंड विलंबता में 10x की कमी 1ms.1 तक

 5G मे 4G से बेहतर स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल होता है

इसको इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ये स्पेक्ट्रम के हर एक बिट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कर सकता है। ये लो बैंडविड्थ से लेकर हाई बैंडविड्थ तक या उससे ज्यादा इस्तेमाल कर सकता है। 

5G मे Integrated प्लेटफॉर्म  है 

इसमे इंतिगरटेड इससे अधिक कुशल प्लेटफॉर्म के साथ डिजाइन किया गया है इसलिए ये मोबाईल ब्रॉड्बैंड को काफी बेहतर बना देता है। 

जानिए 5G का हम पर क्या प्रभाव पड़ेगा | How will 5G affect us in hindi

5 जी पूरी तरह से हमारे जीवनशैली को बदल देगा, क्योंकि इसको कई तरह के काम करने के लिए डिजाइन किया गया है, जैसे तेज डोनलोडिंग स्पीड,लो लैटन्सी,वर्चुअल रीऐलिटी, और आर्टिफिशियल इंटेलेज़ेनस  आदि। 

चलिए एक उदाहरण से समझते है कि 5 G का हम पर क्या प्रभाव पड़ेगा, 5G आपको नए और बेहतर Experience देगा जैसे: Cloud Computing , MultiPlayer Cloud Gamming, रियल टाइम विडिओ ट्रैन्स्लैशन आदि बहुत कुछ है। 

5G कितना तेज है | How fast is 5G in hindi

5G को इस तरह से बनाया गया है कि ये आपको कम से कम 20 जीबी पर सेकंड की हाईएस्ट स्पीड देगा। 5G इससे कई गुण ज्यादा तेज है कितना तेज है ये कह पाना थोड़ा मुस्किल है।नए mm Wave स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल होने कि वजह से इसकी Network Capacity बढ़ गई है। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *